Home / हेल्थ न्यूज़ / चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 1600 के पार -Healthy Kaise Rahe

चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 1600 के पार -Healthy Kaise Rahe

कोरोना वायरस

कोरोना वायरस का कहर चीन में लगातार जारी है। शुक्रवार को चीन ने पहली बार आधिकारिक आंकड़े जारी किए, तो लोगों के होश उड़ गए। रिपोर्ट्स के अनुसार शुक्रवार 14 फरवरी तक महज 24 घंटे में कोरोना वायरस के 5090 नए मामले सामने आए हैं और 121 लोगों की मौत हो गई है। इससे भी ज्यादा परेशान करने वाली बात ये है कि कोरोना वायरस के मरीजों के इलाज में लगे 1700 से ज्यादा मेडिकल कर्मचारी भी इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं। ये आंकड़े बताते हैं कि चीन किस कदर इस भयानक वायरस के प्रकोप से गुजर रहा है और कोरोना वायरस किस कदर खतरनाक है।

पिछले एक महीने से भी ज्यादा समय से चीन के हुबाई शहर में हजारों मेडिकल कर्मचारी कोरोना वायरस से प्रभावित मरीजों की मदद कर रहे हैं। कोरोना वायरस प्रभावित व्यक्ति की छींक और खांसी के संपर्क में आने से या संपर्क में आ चुकी वस्तु को छूने से फैलता है। इसलिए मेडिकल कर्मचारियों को अपना पूरा शरीर अच्छी तरह ढककर काम करना होता है। मगर बहुत सारे मेडिकल कर्मचारियों ने बताया कि उनके पास सुरक्षा के लिए पर्याप्त दस्ताने, मास्क, गाउन और सेफ्टी गॉगल्स नहीं हैं। इसी कारण हजारों हेल्थ प्रोफेशनल्स भी इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं। चीन ने शुक्रवार को अधिकारिक आंकड़े जारी कर बताया कि उनके 1716 मेडिकल कर्मचारी कोरोना वायरस की चपेट में हैं और 6 की इसी वायरस के कारण मौत हो चुकी है।
चीन से मिले ताजा आंकड़ों के मुताबिक, हुबेई प्रांत में अबतक इस जानलेवा बीमारी की चपेट में 54406 लोग आ चुके हैं। चीन में अबतक इस बीमारी की चपेट में 67 हजार 535 लोग आ चुके हैं। चीन से बाहर के 580 लोग इस बीमारी की चपेट में आ चुके हैं जबकि चीन के अलावा 3 देशों में कोराना वायरस की वजह से 3 लोगों की मौत हुई है। इनमें से एक फिलीपींस, एक हॉन्गकॉन्ग और एक जापान में के मरीज हैं।

क्या है कोरोना वायरस

जानकारी के लिए बता दें डब्ल्यूएचओ के मुताबिक कोरोना वायरस सी- फूड से जुड़ा है। कोरोना वायरस विषाणुओं के परिवार का है और इससे लोग बीमार पड़ रहे हैं। यह वायरस ऊंट, बिल्ली तथा चमगादड़ सहित कई पशुओं में भी प्रवेश कर रहा है। खास स्थिति में पशु मनुष्यों को भी संक्रमित कर सकते हैं। इस वायरस का मानव से मानव संक्रमण वैश्विक स्तर पर कम है।

Visit: BFSI Webinar

About healthykaiserahe

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *